टोयोटा मिराई हाइड्रोजन कार(Toyota Mirai Hydrogen Car), एक क्रांति साबित हो सकती है।यह कार पूर्ण रूप से हाइड्रोजन पर आधारित है।इसे पेट्रोल और डीजल की कोई जरूरत नहीं।साथ ही साथ इस कार से होने वाला प्रदूषण भी शून्य है।बहुत दिनों से वायु प्रदूषण से मुक्ति पाने के लिए दुनिया बेचैन थी।तरह तरह के उपक्रम किए जा रहे थे लेकिन परिणाम अब सामने आ रहे है।दुनिया में इलेक्ट्रिक वाहन का घमासान मचा हुआ है।विभिन्न क्षेत्रों की कई – कई कंपनिया इलेक्ट्रिक वाहन निर्माण के क्षेत्र में भाग ले रही है।इसे देखते हुए कहा जा सकता है कि आने वाला समय में वाहन पूरी तरह से डीजल – पेट्रोल से मुक्त हो जायेगे।प्रदूषण से मुक्ति का दूसरा option है हाइड्रोजन कार।अभी बहुतायत में नही है लेकिन भविष्य में इसकी उत्पादन तेज हो जायेगी।

Toyota Mirai Hydrogen Car भारत में लॉन्च हुई
Toyota-mirai-hydrogen-car

(Toyota mirai हाइड्रोजन कार के लॉन्चिंग भारत में भी हो चुका है।केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने हाइड्रोजन ईंधन से संचालित “टोयोटा मिराई”(Toyota Mirai) को लॉन्च किए है। हाइड्रोजन लॉन्च करने के समय श्री गडकरी जी ने कहे कि यह भारत में अपनी तरह की पहली परियोजना है जिसका उद्देश्य देश में प्रदूषण मुक्त वाहनों के लिए परिवेश तैयार करना है।उन्होंने कहा कि हाइड्रोजन से चलने वाले एफसीईवी शून्य कार्बन उत्सर्जन समाधान में सबसे बेहतर है। यह पूरी तरह से पर्यावरण अनुकूल है।इसमें उत्सर्जन के रूप में सिर्फ पानी निकलता है

Toyota Mirai Hydrogen Car भारत में लॉन्च हुई
Toyota-mirai-hydrogen-car

Toyota mirai हाइड्रोजन कार की रेंज और विशेषताएं

Mirai hydrogen car को, जापान की वाहन कंपनी “टोयोटा” ने बनाई है।इसके पहले संस्करण को मूल रूप से 2014 में लॉन्च किया गया था और यह नया संस्करण इसकी दूसरी पीढ़ी का मॉडल है. मिराई एक हाइड्रोजन फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक वाहन है, जिसमें तीन हाइड्रोजन टैंक और फ्यूल सेल हैं, जो हाइड्रोजन के लिए है।इसकी रेंज 646km रखी गई है लेकिन अपने तीन फ्यूल टैंक के मदद से 1000km तक जा सकेगी।

Toyota Mirai भारत की यह पहली FCEV कार है. इसे एक पायलट स्टडी के लिए इस्तेमाल किया जाएगा ताकि इस टेक्नॉलजी को भारतीय सड़कों पर टेस्ट किया जा सके. यह एक ग्लोबल प्रोडक्ट है, जो दुनिया का सबसे एडवांस्ड FCEV माना जाता है. भारतीय सड़कों और क्लाइमेट कंडीशन पर Toyota Mirai की टेस्टिंग के लिए भारत सरकार ने इंटरनेशनल सेंटर फॉर ऑटोमोटिव टेक्नोलॉजी (ICAT) और Toyota Kirloskar Motor से हाथ मिलाया है. खास बात है कि यह कार एक बार फुल टंकी करने पर 650 किमी की दूरी तय कर सकती है.

Leave a comment

Your email address will not be published.